Questions? Feedback? powered by Olark live chat software

Steel News

Steel News

Industrial speed will increase to 20 to 30 per cent General

रायपुर। छत्तीसगढ़ के लघु एवं मध्यय श्रेणी के लौह उद्योग मंदी, उच्च इनपुट लागत की मार तथा विद्युत की डिमांड चार्ज नीति से बंद होते जा रहे थे। इस बार के बजट से उद्योग जगत को एक नया जीवनदान मिला है इससे औद्योगिक गति में २० से ३० फीसदी तक का इजाफा होगा।
यह बातें छत्तीसगढ़ मिनी स्टील प्लांट एसोसिएशन के अध्यक्ष अशोक सुराना ने कही। उनके अनुसार बजट ने पहली बार बंद होते स्टील उद्योगों के लिए ऑक्सीजन का काम किया है। औद्योगिक गति में तेजी से बिजली व कच्चा माल(स्पंज आयरन व आयरन ओर) का उपयोग भी बढ़ेगा। इसके दूरगामी परिणाम के रूप में प्रदेश की जीडीपी में उल्लेखनीय वृद्धि के साथ ही यहां रोजगार भी बढ़ेगा। इसके अलावा उत्पाद कर, आयकर, सर्विस टैक्स, वाणिज्यकर सहित अन्य विभागों के राजस्व में भी इजाफा होगा। सरकार को चाहिए की अब विद्युत मण्डल की डिमांड चार्ज नीति और उर्जा शुल्क में भी कमीं करने का प्रयास करे।
इसी तरह छत्तीसगढ़ स्टील चैम्बर के अध्यक्ष रमेश अग्रवाल तथा छत्तीसगढ़ स्टील रि-रोलर्स एसोसिएशन के महासचिव विजय कुमार अग्रवाल ने कहा कि बजट में उद्योग जगत को दिए गए राहत से इससे जुडे सहायक उद्योगों को भी फायदा होगा तथा प्रदेश के इकानॉमिक गतिविधियों में तेजी आएगी। प्रदेश लौह उत्पादन मंडी है जहां से अधिकतर उत्पाद देश के विभिन्न क्षेत्रों में बेचे जाते हैं। प्रवेश कर में कमीं का लाभ यहां के उद्योगों को मिलेगा।
बजट से ंिमली राहत पर उद्योगपतियों ने कहा 

Last 30 days visitor count: 0